शेयर बाजार: सेंसेक्स 112 अंक उछला, निफ्टी 47 अंक मजबूत

नई दिल्ली। विदेशी बाजारों से मिले मिलेजुले संकेतों के बीच थोक महंगाई दर में नरमी और रिएल्टी, स्वास्थ्य तथा एफएमसीजी समूह में हुई लिवाली के दम पर घरेलू शेयर बाजार लगातार आठवें दिन मजबूती में बंद हुए। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक 112.78 अंक की तेजी में 34,305.43 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 47.75 अंक की बढ़त में 10,528.35 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की शुरूआत गिरावट में हुई और यह 34,000 के आंकड़े से लुढ़कता हुआ 33,944.73 अंक पर खुला। शुरूआती कारोबार में यह फिसलकर 33,899.34 अंक के दिवस की निचले स्तर तक गया। शाम के समय हीरो मोटाकॉर्पस और कोटक बैंक के शेयरों की कीमत में आई तेजी और थोक महंगाई दर के आंकड़े जारी होने के बाद निवेशकों की धारणा में सुधार से 34,341.46 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर को छूता हुआ शुक्रवार की तुलना में 0.33 फीसदी की बढ़त के साथ 34,305.43 अंक पर बंद हुआ।
 
थोक मूल्यों पर आधारित मुद्रास्फीति की दर घटने का दिखा असर
सेंसेक्स की 30 में से 20 कंपनियां हरे निशान में रहीं। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के मुताबिक मार्च में थोक मूल्यों पर आधारित मुद्रास्फीति की दर घटकर 2.47 फीसदी दर्ज की गई है जबकि इससे पिछले वर्ष के इसी माह में यह आंकडा 5.11 फीसदी रहा था। निफ्टी की शुरुआत भी कमजोर रही और यह 10,398.30 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान 10,396.35 अंक के निचले और 10,540.15 अंक के उच्चतम स्तर को छूता हुआ यह शुक्रवार की तुलना में 0.46 फीसदी की मजबूती के साथ 10,528.35 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 34 कंपनियां हरे निशान में और 16 लाल निशान में रहीं।
घरेलू कंपनियों के दम पर रही बढ़त
विश्लेषकों के मुताबिक सीरिया पर बीते शनिवार अमरीका, फ्रांस और ब्रिटेन की ओर से 105 मिसाइलें दागे जाने के बाद वैश्विक मंच पर हलचल मच गई है। रूस ने इस हमले की कड़ी निंदा की है जबकि जर्मनी ने समर्थन किया है। सीरिया को लेकर जारी तनातनी से आशंकित निवेशकों का रुझान शेयर बाजार में घटता दिख रहा है। सेंसेक्स और निफ्टी पर फिलहाल घरेलू कारक अधिक हावी हैं, जिससे यह अपनी तेजी बरकरार रख पाए हैं । दिग्गज कंपनियों की तरह छोटी और मंझोली कंपनियां भी निवेशकों को आकर्षित कर पाईं।
बीएसई के मिडकैप में बढ़त
बीएसई की मिडकैप 0.34 फीसदी यानी 56.55 अंक की तेजी में 16,734.31 अंक पर और स्मॉलकैप 0.56 फीसदी यानी 100.26 अंक की बढ़त में 18,082.25 अंक पर रहा। बीएसई में कुल 2,876 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 207 कंपनियों के भाव अपरिवर्तित रहे जबकि 1,416 में गिरावट और 1,253 में तेजी रही।
अंतरराष्ट्रीय बाजार में मिला-जुला रूख
यूरोपीय बाजारों में ब्रिटेन का एफटीएसई 0.49 फीसदी की गिरावट में और जर्मनी का डैक्स 0.12 फीसदी की तेजी में खुला। एशियाई बाजारों में हांगकांग के हैंगशैंग में 1.60 और चीन के शंघाई कंपोजिट में 1.53 फीसदी की गिरावट रही जबकि दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.09 फीसदी और जापान का निक्की 0.26 फीसदी की तेजी में रहा।
बीएसई में इन सेक्टरों के शेयरों में गिरावट
बीएसई के 20 समूहों में से आठ समूह के सूचकांक गिरावट में रहे। पीएसयू में 0.06,ऊर्जा में 0.15,इंडस्ट्रियल्स में 0.13,आईटी में 0.78,दूरसंचार में 0.51,सीडी में 0.21,तेल एवं गैस में 0.14 और टेक में 0.69 फीसदी की गिरावट रही। रिएलिटी में सर्वाधिक 1.82 फीसदी की तेजी रही। रिएलिटी और एफएमसीजी सहित अन्य समूहों में तेजी रही। सेंसेक्स की 30 में से 20 कंपनियां हरे निशान में रहीं। हीरो मोटोकॉर्पस में 2.02, कोटक बैंक में 1.88, अदानी पोटर्स में 1.85, बजाज ऑटो में 1.73, महिंद्रा एंड महिंद्रा में 1.66, एचडीएफसी में 1.64, एनटीपीसी में 1.55, आईटीसी में 1.42, एशियन पेंट्स में 1.30, सन फार्मा में 1.26, टीसीएस में 1.07, मारुति में 1.03, हिंदुस्तान यूनीलीवर में 0.94, एलएंडटी में 0.89, पावर ग्रिड में 0.76, डॉ. रेड्डीज में 0.70, एचडीएफसी बैंक में 0.55, यस बैंक में 0.31 और इंडसइंड बैंक तथा एक्सिस बैंक में 0.06 फीसदी की तेजी रही।
इन कंपनियों के शेयरों में रही गिरावट
टाटा मोटर्स के शेयरों की कीमत सबसे अधिक 4.96 फीसदी गिर गयी। इसके अलावा इंफोसिस के शेयरों में 3.10,भारतीय स्टेट बैंक में 0.76, ओएनजीसी में 0.55, टाटा स्टील में 0.49,आईसीआईसीआई बैंक में 0.28, रिलायंस में 0.17,भारती एयरटेल में 0.16, विप्रो में 0.15 और कोल इंडिया में 0.09 फीसदी की गिरावट रही।

Go to Source
Author:

Leave a Reply